Saturday, February 20, 2010

यदि कोई हिन्दू किसी मस्जिद में ऐसा करता तो???

इस खबर पर नज़र डालिये, इसमें एक मुस्लिम महिला फ़ौज़िया ने एक शिव मन्दिर में जमकर हंगामा मचाया और तोड़फ़ोड़ की, उसका कहना था कि इस मन्दिर की जगह पहले किसी बाबा की मज़ार थी… (शायद वह कहना चाहती होगी की शिव मन्दिर तोड़कर जो मज़ार बनाई थी वह कहाँ गई?)।

इस हंगामे पर स्थानीय निवासियों और भाजपा पार्षद ने विरोध किया और महिला को पुलिस के हवाले किया… यहाँ सवाल है कि यदि कोई हिन्दू महिला किसी मस्जिद में घुसकर ऐसा हंगामा करती, क्या तब भी मस्जिद में उपस्थित लोगों का व्यवहार ऐसा ही होता जैसा शिव मन्दिर में उपस्थित लोगों का था? क्या प्रशासन का व्यवहार भी ऐसा ही रहता? और ऐसा किसी मस्जिद में होता तो शहर का माहौल कैसा होता? :)

खबर पर नज़र डालिये…

6 comments:

Anonymous said...

कुछ नहीं होगा इस मूर्तिभंजक महिला का, मुझे तो लगता है कि जो सबाब इसने मंदिर पर हमला करके कमाया है उसके बदले में जन्नत में इसे 21 पुरुष हूरें मिलने वाले हैं

मरहबा!

February 20, 2010 at 6:20 PM
nitin tyagi said...

इस महिला को किसी ने मारा नहीं क्या ?

February 21, 2010 at 1:37 PM
Tarkeshwar Giri said...

Om Namh! Shivaya.

February 21, 2010 at 5:12 PM
Anonymous said...

muslman ka baccha kabhi na saccha.....sale hamari hi khate hain.. aur hame hi....

February 23, 2010 at 11:30 AM
महाशक्ति said...

अल्‍पसंख्‍यक होने के लाभ

February 26, 2010 at 9:37 AM
भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

hindu hota to tukde milte aur dharm-nirpekshiye munh baandhe khade rahte.

February 28, 2010 at 11:55 AM

Post a Comment

बेधड़क अपने विचार लिखिये, बहस कीजिये, नकली-सेकुलरिज़्म को बेनकाब कीजिये…। गाली-गलौज, अश्लील भाषा, आपसी टांग खिंचाई, व्यक्तिगत टिप्पणी सम्बन्धी कमेंट्स हटाये जायेंगे…