Saturday, March 6, 2010

खुदीराम बोस की समाधि पर बना शौचालय


पटना : विधानसभा में विधायक किशोर कुमार ने शुक्रवार को आजादी की लडाई के अमर सेनानी शहीद खुदीराम बोस से जुडे ऐतिहासिक स्थलो की बदहाली का मामला उठाया और सरकार से उन स्थलो को राष्‍टीय स्मारक के रूप में विकसित करने की मांग की. विधानसभा में शून्य काल कें दौरान निर्दलीय किशोर कुमार ने कहा कि फांसी के बाद शहीद खुदीराम बोस का मुजफ्‌फरपुर के बर्निंगघाट पर अंतिम संस्कार किया गया था लेकिन उस स्थल पर शौचालय बना दिया गया है. इसी तरह किंग्सफोर्ड को जिस स्थल पर बम मारा गया था उस स्थल पर मुर्गा काटने और बेचने का धंधा हो रहा है. उन्होंने कहा कि यह शहीदों के प्रति घोर अपमान और अपराध है. विधायक ने राज्य सरकार से इस मामले को गंभीरता से लेने और शहीद खुदीराम बोस से जुडे ऐतिहासिक स्थलो को संरक्षित कर पर्यटक धरोहर और राज्‍कीय स्मारक के रूप में विकसित करने की मांग की ताकि आने वाली पीढी इससे प्रेरणा ले.

7 comments:

Amitraghat said...

"कितने महान थे खुदीराम बोस पर कोई बात नहीं वे तो हमारे दिल में बसे हैं ये पोस्ट पढ़्कर दुख तो हुआ पर हैरानी कतई नहीं...."
प्रणव सक्सैना
amitraghat.blogspot.com

March 6, 2010 at 8:44 PM
कविता वाचक्नवी Kavita Vachaknavee said...

हेभगवान!
पुन: यही प्रमाणित हुआ कि कितने निर्लज्ज हैं हम भारतीय और कितने घटिया ।

March 6, 2010 at 8:55 PM
भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

शहीदों ने देश को आजाद कर बहुत बड़ी गलती की. हम इस लायक थे ही नहीं. जूतों के भूत थे.

March 6, 2010 at 9:50 PM
Jeet Bhargava said...

भाई आप भी कैसी बात करते हो? इस देश में तो गांधी-नेहरू खानदान के शौचालयों तक को सरकारी खर्चे पर स्मारक बनाने का रिवाज है. क्योंकि उन्ही की संतानों ने देश पर राज किया है. खुदीराम, सावरकर, भगतसिंह और हेडगेवार, अशफाक को इज्जत मिल जाए तो क्या गांधी-नेहरू की शान पे आंच नहीं आ जायेगी?

March 7, 2010 at 11:27 PM
dschauhan said...

यह उनका नहीं हम अपना ही अपमान कर रहे हैं, अपनी धरोहर का अपमान कर रहे हैं! उस क्षेत्र की जनता भी जागरुक नहीं है शायद!

March 8, 2010 at 5:03 PM
nitin tyagi said...

आज जब में १९ साल के लड़कों व् लड़कियों को देखता हूँ तो में सोच भी नहीं पाता की इस देश में खुदी राम बॉस जैसे पुत्रों ने भी जन्म लिया |
आज हर १९ साल के लड़के को एक गर्ल फ्रेंड चाहिए लेकिन खुदी जी ने देश को दिल दिया |

March 10, 2010 at 2:08 PM
जयराम “विप्लव” { jayram"viplav" } said...

dukhad ghtna hai ................ sharm kare ye sarkar ..........

April 25, 2010 at 11:08 AM

Post a Comment

बेधड़क अपने विचार लिखिये, बहस कीजिये, नकली-सेकुलरिज़्म को बेनकाब कीजिये…। गाली-गलौज, अश्लील भाषा, आपसी टांग खिंचाई, व्यक्तिगत टिप्पणी सम्बन्धी कमेंट्स हटाये जायेंगे…